Thread Rating:
  • 0 Vote(s) - 0 Average
  • 1
  • 2
  • 3
  • 4
  • 5
[-]
प्रायोजक Sponsors

prerak prasang
#1
*?मधुर वाणी?*
✅✅✅✅✅✅
*आज का प्रेरक प्रसंग*
     कर्मठता वचन-मधुरता, व्यवहार-कौशल और संकल्प-पावित्रय जीवन सिद्धि और शुभ-लाभ प्रदाता हैं..!

                 वेद में एक वाक्य है, *वाणी की मधुरता से सहज ही सभी को मित्र जबकि कर्कश वाणी से शत्रु बनाया जा सकता है।*            
                 वास्तव में मीठी वाणी बोलना न केवल अपने, बल्कि दूसरों के कानों को भी सुकून देता है।
           सत्य ही कहा है- *जरूरी नहीं कि आप केवल मिठाई खिलाकर दूसरों का मुंह मीठा करें, आप मीठा बोलकर भी लोगों का मुंह मीठा कर सकते हैं।*
          यहां तक कि विभिन्न वेद शास्त्रों में भी

          *वाणी  संयम को सर्वश्रेष्ठ तप कहा गया है।*
                *या ते जिव्हा मधुमति*
  *सुमेधाने देवेषूच्यत*  
                *उरुचि.......*
                  -ऋग वेद     

     अर्थात्, मीठी और सद्बुद्धि युक्त वाणी का प्रयोग करें, जिसे देव बोलते हैं।
       *‘कटुबोलना,असंगत बात कहना, अहंकारयुक्त शब्द बोलना, निंदा करना आदि वाणी के ऐसे उद्वेग दोष हैं, जिनसे मनुष्य पग-पग पर संकट में पड़ता है, अत: एक-एक शब्द सोच-समझकर बोलना चाहिए।’*
                  -नीति शास्र

       *‘असंयमपूर्ण बोलने की अपेक्षा मौन रहना श्रेयस्कर है, सत्य, प्रिय और धर्मयुक्त वचन ही उच्चरित करने चाहिए'।*
                  -विदुर नीति

         *‘हे पार्थ !, जिस वाणी को धारण करने से मानव को यश और प्रतिष्ठा प्राप्त होती है, जिससे मनुष्य की विद्वान के रूप में पहचान होती है, उस वाणी को वाक् कहते हैं, ऐसा व्यक्ति वागीश अर्थात् वाणी का देवता कहलाता है।’*
                         -श्रीकृष्ण

 *तुलसी मीठे वचन तै,*
*सुख उपजत चहुं ओर।,*          *वशीकरण के मंत्र हैं,*
*तज दे वचन कठोर।*
        -गोस्वामी तुलसीदास

*ऐसी बानी बोलिए,*
 *मन का आपा खोय,*
*औरन को शीतल करे,* *आपहु शीतल होय...।*
                     -सन्त कबीर

           मित्रों तलवार का घाव देर-सबेर भर जाता है, किंतु कटु वाणी से हुआ घाव कभी नहीं भरता, इसलिए हमें चाहिए कि...
            हम हमेशा *“मीठा और उचित बोलें, खुद भी प्रसन्न रहें और दूसरों को भी प्रसन्न करें.........।*
Reply


Forum Jump:


Users browsing this thread: 1 Guest(s)
[-]
नूतन सामग्री Recent Stuff
namr bane
Last Post: BeM
12-03-2017 09:25 PM
» Replies: 0
» Views: 129
ek kajani
Last Post: BeM
11-25-2017 09:20 PM
» Replies: 0
» Views: 126
kavita .e phade
Last Post: BeM
11-25-2017 09:05 PM
» Replies: 0
» Views: 1823
On Ramanuj birthday
Last Post: BeM
11-08-2017 09:48 PM
» Replies: 0
» Views: 484
prerak prasang
Last Post: BeM
10-31-2017 08:30 PM
» Replies: 0
» Views: 225
sakaratmak soch
Last Post: BeM
10-28-2017 10:38 PM
» Replies: 0
» Views: 174
vanddmatram
Last Post: BeM
10-24-2017 08:12 AM
» Replies: 0
» Views: 682